ईरान ने भारत को चाबहार - Study24x7
Social learning Network

Welcome Back

Get a free Account today !

or

ईरान ने भारत को चाबहार रेल परियोजना से हटाया, जानें क्या है कारण

Published on 14 July 2020
study24x7
Vipin Gangwar
4 min read 0 views
Published on 14 July 2020


ईरान ने हाल ही में भारत को बड़ा झटका देते हुए चाबहार रेल परियोजना से भारत को बाहर कर दिया है. ईरान ने घोषणा किया है कि वह अब अकेले ही इस परियोजना को पूरा करेगा. भारत के लिए ईरान का यह फैसला सामरिक और रणनीतिक तौर पर बड़ा झटका माना जा रहा है.

गौरतलब है कि ईरान और चीन के बीच 400 बिलियन डॉलर की एक महाडील होने वाली है. माना जा रहा है कि इस डील के चलते ही ईरान ने चाबहार परियोजना से भारत को बाहर कर दिया है. ये रेल परियोजना चाबहार पोर्ट से जहेदान के बीच बनाई जानी है.


क्या है कारण?


ईरान ने भारत द्वारा प्रोजेक्ट की फंडिंग में देरी किए जाने को इसकी वजह बताया है. ईरान ने आरोप लगाया है कि समझौते के चार साल बीत जाने के बाद भी भारत इस परियोजना के लिए फंड नहीं दे रहा है. ऐसे में अब वह खुद ही इस परियोजना को पूरा करेगा. चीन से समझौता होने के बाद ईरान के मूलभूत ढांचे से जुड़े प्रोजेक्ट्स बीजिंग ही पूरे करेगा.


क्या है चाबहार रेल परियोजना?


इस परियोजना के तहत ईरान के चाबहार पोर्ट से लेकर जहेदान इलाके तक रेल परियोजना बनायी जानी है. इस रेल परियोजना को अफगानिस्तान के जरांज सीमा तक बढ़ाए जाने की भी योजना है. रिपोर्ट के मुताबिक, इस परियोजना को मार्च 2022 तक पूरा किया जाना है. साल 2016 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ईरान यात्रा के दौरान चाबहार समझौते पर हस्ताक्षर हुआ था. पूरी परियोजना पर लगभग 1.6 अरब डॉलर का निवेश होना था. इस परियोजना को पूरा करने के लिए इरकान के इंजीनियर ईरान गए भी थे.

study24x7
Write a comment...