महाद्वीप(Continent) - Study24x7
Social learning Network

Welcome Back

Get a free Account today !

or

Forgot password?

By Registering, you agree to our Privacy Policy and Terms of use.

महाद्वीप(Continent)

Updated on 06 March 2020
study24x7
Astronomy
6 min read 2 views
Updated on 06 March 2020

♻ पृथ्वी के कुल 29% भाग पर स्थलमंडल / महाद्वीपस्थित है।

♻ पृथ्वी पर कुल 7 महाद्वीप है : –

1. एशिया

2. अफ्रीका

3. उत्तरी अमेरिका

4. दक्षिण अमेरिका

5. अंटार्कटिका

6. यूरोप

7. ऑस्ट्रेलिया


एशिया महाद्वीप



➡ एशिया महाद्वीप विश्व का सबसे बड़ा महाद्वीप है ।

➡ यह उत्तरी गोलार्द्ध में स्थित है ।

➡ विश्व की सर्वाधिक दो तिहाई (2/3) जनसंख्या लगभग 60% एशिया महाद्वीप में निवास करती है ।

➡ इस महाद्वीप का क्षेत्रफल 4,39,99,000 (पृथ्वी का 30% क्षेत्रफल) वर्ग किमी. है ।

➡ एशिया अफ्रीका से स्वेज नहर और लाल सागर द्वारा अलग होता है।

➡ इसके पूर्व मे प्रशांत महासागर , उत्तर में आर्कटिक महासागर , दक्षिण में हिन्द महासागर स्थित है।

➡ ” यूराल पर्वत ” एशिया और यूरोप को अलग करता है ।

➡ विश्व का सबसे नीचा स्थान ” मृत सागर ” है जो समुन्द्र तल से 418 मीटर नीचा है । यह स्थान जॉर्डन – इजराइल सीमा पर स्थित है।

➡ तिब्बत का पठार एशिया महाद्वीप में ही है , जो विश्व का सबसे बड़ा पठार है ।

➡ चीन में बहने वाली यांगटीसी नदी एशिया की सबसे लंबी नदी है।

➡ इस महाद्वीप में जनसख्या का सर्वाधिक संकेंद्रण दक्षिण एवं दक्षिण – पूर्वी भाग में है ।

➡ एशिया महाद्वीप को महाद्विपो का महाद्वीप , नदियों की सभ्यताओं का पालना (मेसोपोटामिया की सभ्यता विश्व की पहली सभ्यता), मानव की जन्मभूमि , सभी धर्मों की आद्य भूमि , विषमताओं का महाद्वीप , पक्षियों का देश , भूत तथा भविष्य का महाद्वीप आदि नामो से भी जाना जाता है ।


एशिया महाद्वीप का राजनीतिक विभाजन


1 साइबेरिया या उत्तरी एशिया : – साइबेरिया को भविष्य का भंडार ग्रह कहते है।

2 मध्य एशिया : – कजाकिस्तान ( अस्तामा राजधानी ) पूरे विश्व में यूरेनियम उत्पादन में प्रथम स्थान ।

3 दक्षिण एशिया : – इसमें आठ देश है जो सार्क के सदस्य है । ( सार्क की स्थापना 1985 में मुख्यालय काठमांडू में की गई )

4 दक्षिण – पश्चिम एशिया : – इसमें 17 देश है । इनको अरब देश कहते है । यहाँ पेट्रोलियम के भंडार व उत्पादन सबसे ज्यादा होता है ।

5 दक्षिण – पूर्वी एशिया : – इसमें 11 देश है ।

: – लाओस में ‘ लैंड लॉक ‘ स्थित है , जो की सबसे गरीब देश है ।

: – इंडोनेशिया के पास 17000 द्वीपो का समूह है जो विश्व का सबसे बड़ा द्वीप समूह है ।

6 पूर्वी एशिया : – इसमें 5 देश है ।

: – जापान की राजधानी टोक्यो सबसे ज्यादा प्राकृतिक आपदाओं वाला देश है ।

ध्यातव्य रहे : – एशिया में ” कर्क रेखा ” सऊदी अरब , UAE , ओमान , भारत , बांग्लादेश , म्यांमार , चीन आदि देशों से होकर गुजरती है ।


जल संधियाँ


➡ कोको चैनल : – म्यांमार कोको द्वीप इ भारत के अंडमान – निकोबार के मध्य स्थित । यह बंगाल की कड़ी को अंडमान सागर से जोड़ता है ।

➡ ग्रेट चैनल : – अंडमान – निकोबार तथा इंडोनेशिया के मध्य स्थित है ।

➡ मलक्का स्ट्रेट : – मल्य प्रायद्वीप ( मलेशिया ) तथा सुमात्रा द्वीप ( इंडोनेशिया ) के मध्य ।

➡ सुंडा स्ट्रेट : -सुमात्रा तथा जावा द्वीप के मध्य ।

➡ जाहौर स्ट्रेट : -मलेशिया ( मल्य प्रायद्वीप ) तथा सिंगापूर के मध्य ।


झीलें


➡ बेकाल झील : – साइबेरिया में मीठे पानी की तथा विश्व की सबसे ‘ गहरी ‘ ( गहराई -1620 मी. ) झील है ।

➡ केस्पियन सागर झील : – खारे पानी की सबसे बड़ी झील है ।

➡ वान झील : – टर्की के पठार पर स्थित विश्व की सबसे खारी झील है । ( लवणता 330% )

➡ मृत सागर झील : – विश्व की सबसे गहराई ( 418 मी.) पर स्थित झील है । इसे Sea of Peace कहा जाता है । संसार का सबसे निचा स्थान इसी झील में है ।


पर्वत


➡ हिमालय पर्वत : – यह एक नवीन वलित पर्वतमाला है । इसकी सबसे ऊँची चोटी माउन्ट एवरेस्ट 8848 मी. है ।

➡ काला पर्वत : – पाकिस्तान के उत्तर में स्थित है ।

➡ हिंदुकुश पर्वत : – यह अफगानिस्तान तथा पाकिस्तान में फैला हुआ है ।

➡ अरारात पर्वत : – तुर्की में स्थित है ।

➡ जुगारियन पर्वत : – चीन के उत्तर – पश्चिम में स्थित है ।

➡ नान शान पर्वत : -चीन के उत्तर में स्थित है ।

➡ अल्टाई पर्वत : – मंगोलिया का सर्वोच्च पर्वत है ।

➡ पिगुयोमा पर्वत श्रेणी : – भारत व म्यांमार की प्राकृतिक सीमा निर्धारित करती है है ।

➡ यूराल पर्वत : – यह रूस में स्थित प्राचीन वलित पर्वतमाला है , यूरोप व एशिया को अलग करती है ।


पठार


➡ पामीर का पठार : – विश्व का सबसे ऊँचा पठार ( तजाकिस्तान देश में ) जो ” संसार की छत ” के नाम से जाना जाता है ।

➡ तिब्बत का पठार : – क्यूनलून , हिमालय व काराकोरम श्रेणियों जे मध्य स्थित विश्व का सबसे बड़ा पठार है इसे चीन की दीवार भी कहते है ।


मैदान


➡ पाकिस्तान ,भारत ,बांग्लादेश में फैले हुए नदी द्वारा निर्मित मैदान ‘ विश्व के सबसे बड़े मैदान ‘ है ।

➡ पाकिस्तान को नहरों का देश कहते है ।

➡बांग्लादेश को नदियों का देश कहते हैं।


नदियां


➡ मीकांग नदी : – इसे दक्षिणी – पूर्वी एशिया की गंगा कहते हैं ।

➡ यांग्टीसिक्यांग नदी : – यह चीन की सबसे लंबी नदी है । शंघाई शहर इसी नदी पर स्थित है ।

➡ ह्वांगहो / पीली नदी : – यह नदी चीन का शौक कहलाती है।


एशिया में स्थित देशो के उपनाम


लाओस – हाथियों का देश

थाईलैंड – चावल का कटोरा

श्रीलंका – पूर्व का रत्न

श्रीलंका – स्वर्ग वाटिका

श्रीलंका – रत्नों का द्वीप

श्रीलंका – सिंहली द्वीप

भूटान – तूफानों जा देश

मालदीव – मूँगों का द्वीप (भारत)

लाल सागर – चमकते सूरज का यमलोक (सऊदी अरब)

तुर्की – एशिया का प्रवेशद्वार


उत्तरी अमेरिका



➡ यह क्षेत्रफल के अनुसार तीसरा बड़ा महाद्वीप है ।

➡ इसकी खोज 1492 ई. में ‘ जेनेवा ‘ ( इटली ) के नाविक ‘ कोलम्बस ‘ द्वारा की गई ।

➡ कोलम्बस ने इस महाद्वीप को ‘ नई दुनिया का देश ‘ बताया तथा इटली जे नाविक ‘ वेस्पुसी अमेरिगो ‘ के नाम पर ही इसे ‘ अमेरिका महाद्वीप ‘ कहा गया ।

➡ इस महाद्वीप की आकृति त्रिभुजाकार है ।

➡ इसका क्षेत्रफल लगभग 2,42,35,000 वर्ग किमी. है तथा विश्व के क्षेत्रफल का 16.3 % है ।

➡ 100 डिग्री पश्चिमी देशांतर रेखा इस महाद्वीप के मध्य से गुजरती है ।

➡ इस महाद्वीप के कनाडा व अमेरिका में पाये जाने वाले घास के मैदानों को ‘ प्रेयरीज ‘ कहा जाता है ।

➡ इसके उत्तर में आर्कटिक महासागर , दक्षिण में मेक्सिको की खाड़ी , पूर्व में अंटलाटिक महासागर एवं पश्चिम में प्रशांत महासागर है ।

➡ कनाडा , सयुंक्त राज्य अमेरिका और मेक्सिको इसके प्रमुख देश है जो अधिकांश भागपर फैले हुए है ।

➡ इस महाद्वीप के उत्तरी भाग में अति शीत और दक्षिण भाग में अति उष्ण जलवायु पाई जाती है ।

➡ ग्रेट बैसिन : – इसके दक्षिणी – पश्चिमी भाग में ‘ डैथ वैली ‘ (मृत घाटी गहराई – 86 मीटर) नाम की एक झील है । इसके नीचे का point ‘ Bad Water ‘ कहलाता है ।


नदियां


➡ मिसीसिपी , मिसौरी , ओहिया , सेंटलारेन्स यहाँ की प्रमुख नदियां है ।

➡ कोलोरेडा नदी : – इस पर स्थित विश्व का सबसे गहरा और बड़ा गर्त ‘ ग्राण्ड कैनियन ‘ है ।

➡ मिसीसिपी नदी : – यह उत्तरी अमेरिका की सबसे लंबी नदी है ।


झीलें

➡ सुपीरियर झील : – विश्व की सबसे बड़ी ‘ मीठे पानी ‘ की झील सयुंक्त राज्य अमेरिका में स्थित है । यह हिमानी निर्मित है ।

➡ उत्तरी अमेरिका में प्रसिद्ध पाँच झीलों – सुपीरियर , मिशिगन , ह्ययुरन , ईरी और ओंटेरियो को महान झील क्षेत्र कहा जाता है

➡ विश्व का 50%मक्का U.S.A पैदा करता है । यहां मक्का को ‘ Corn ‘ कहते हैं ।

➡ रॉक – फॉस्फेट उत्पादन का विश्व में USA का प्रथम स्थान है ।

➡ विश्व का सबसे ज्यादा कोयला भंडार USA के पास है ।

➡ परमाणु ऊर्जा में USA का विश्व में प्रथम स्थान है ।

➡ शिकागों : – विश्व की सबसे बड़ी ‘ माँस की मंडी राजधानी ‘ है और विश्व का सबसे बड़ा ‘ रेलवे जंक्शन ‘ है इस शहर का संबंध ‘ स्वामी विवेकानंद ‘ से है ।


औद्योगिक


➡ न्यूयार्क : – UNO युनिसेक का मुख्यालय है ।

➡ वाशिंगटन D.C : – यह पोटोमेक नदी के तट पर स्थित है । यहां विश्व बैंक का मुख्यालय है।

➡ पिट्स बर्ग : – विश्व की लौह इस्पात राजधानी कहलाता है ।

➡ कनाडा : – कनाडा व USA के प्रेयरी प्रदेश को विश्व की रोटी की टोकरी कहते है ।

➡ कनाडा विश्व का 50% कोबाल्ट व निकिल पैदा कार्य है ।

➡ विश्व की सबसे बड़ी हीरे की खान सडबरी खान , ओंटेरियो राज्य में स्थित है ।

➡ विश्व का सबसे बड़ा पार्क ‘ वुड बुफ़ेलो नेशनल पार्क ‘ कनाडा के ‘ अलबर्टा ‘ प्रान्त में स्थित है ।


दक्षिणी अमेरिका महाद्विप



➡ यह विश्व का चौथा बड़ा महाद्वीप है , इसका क्षेत्रफल 1,77,98,500 वर्ग किमी. है , जो विश्व के कुल क्षेत्रफल का लगभग 12.79% है ।

➡ इस महाद्वीप का आकार त्रिभुजाकार है , जो की अत्यधिक कटा – फटा महाद्वीप है ।

➡ इस महाद्वीप की खोज क्रिस्टोफर कोलम्बस ने की जिसे कोलम्बस का भारत , पक्षियों का महाद्विप , निर्धन निवासियों का धनी महाद्वीप के नामो से जाना जाता है ।

➡ उस महाद्वीप का सबसे बड़ा देश ब्राजील है ।


भौतिक विभाजन / प्राकृतिक


➡ एंडीज पर्वतमाला : – यह नवीन वलित विश्व की सबसे लंबी पर्वतमाला है ।

➡ इस पर्वत माला पर बोलिविया का पठार स्थित है ,जिस पर विश्व की सबसे ऊंची झील टिटीकाका झील स्थित है ।

➡ एकांकागुआ : – यह विश्व का सबसे ऊँचा ज्वालामुखी पर्वत है ।


घास भूमियां


➡ लानोस : – ये घास के मैदान वेनेजुएला में अमेजन वनों मे पाए जाते हैं।

➡ कम्पोस : – ये घास के मैदान ब्राजील में पाए जाते हैं ।

➡ पम्पास : – ये घास के मैदान अर्जेंटीना में पाए जाते हैं । जहाँ पर अल्फ़ा – अल्फा घास पायी जाती है ।


नदियां


➡ अमेजन नदी : – विश्व की दूसरी ( पानी की मात्रा के आधार पर सबसे बड़ी नदी ) सबसे लंबी ( 6280 km. ) नदी है ।

➡ अमेजन जे आसपास स्थित वर्षा वन विश्व का सबसे बड़ा वन क्षेत्र है जिसे ‘ धरती का फेंफड़े ‘ भी कहा जाता है

➡ ओरिनोको नदी : – वेनेजुएला देश की प्रमुख नदी पर विश्व का सबसे ऊंचा एंजिल जलप्रपात स्थित है ।

➡ पराना नदी : – पराग्वै तथा उरुग्वे नदियों के पराना नदी में मिलने से पराना का नाम लाप्लाटा हो जाता है ।


मरुस्थल

➡ अटाकामा : – इसे विश्व का सबसे सुखा मरुस्थल कहते है ।

➡ पेटागोनिया : – ये दक्षिणी अमेरिका का सबसे बड़ा पथरीला तथा पठारी मरुस्थल है ।


खनिज तेल

➡ तांबे का सबसे बड़ा उत्पादक देश चिली है । यहाँ तांबे की सबसे बड़ी खान चुकचिकामाता स्थित है ।

➡ ब्राजील में सबसे ज्यादा कॉफी का उत्पादन होता है ।

➡ कॉफी के बागानों को यहां फेजेन्डा कहा जाता है ।


अफ्रीका



क्षेत्रफल व जनसंख्या में दूसरा

सबसे बङा देश (क्षेत्रफल) – अल्जीरिया

सबसे बङा देश (जनसंख्या) -नाइजीरिया

अफ्रीका जिब्राल्टर जलसंधि द्वारा यूरोप से पृथक होता है


पर्वतमाला

एटलस (टॉबकल – इसकी सबसे ऊँची चोटी)

किलीमंजारो इस महाद्वीप की सबसे ऊँची पर्वत चोटी


मरुस्थल

कालाहारीं- बोत्सवना देश में (शूतुर्मुर्ग पाया जाता है)

बुशमेन जनजाति निवास करतीं है

सहारा विश्व का सबसे बङा (10 देशों)

सबसे कम जनसंख्या घनत्

विक्टोरिया अफ्रीका की सबसे बङी झील है मीठे पानी की दूसरी सबसे बङी


घास के मैदान

सवाना, वेल्ड

नदियाँ

नील नदी – उद्गम – विक्टोरिया व टानीवाल झील

यह भू मध्य सागर में गिरती है।

इस पर आस्वान बांध मिश्र में बनाया गया है

कांगो या जायरे – भूमध्य (विषूवतीय) रेखा को तो बार काटती है

स्टेनले जल प्रपात

लिम्पोपो – मकर को दो बार काटती है


अन्य तथ्य

सर्वाधिक खनिज भंडार

दक्षिण अफ्रीका सोने का सबसे बङा उत्पादक

हीरा – दक्षिण अफ्रीका की सबसे बङी ख़ान – प्रिमयम

किम्बर ले – हीरे व सोने की खानो के लिए प्रसिद्ध

कॉफी का जन्म स्थली – इथोपिया

पम्बा व जंजबीर द्वीप – लौंग के उत्पादन के लिए प्रसिद्ध


स्वेज नहर

1869 में फ्रांस व अमेरिका ने बनवायी निर्माण – फर्डिनेड डिलेस्सेप (फ्रास)

162 किमी लम्बी भूमध्य व लाल सागर को जोङती है


वेल्ड घास का मैदान (दक्षिण अफ्रीका)


ओशेनिया/ऑस्ट्रेलिया महाद्वीप



प्यासी भूमि का देश, लैण्ड ऑफ़ कंगारू एवं लैण्ड ऑफ़ गोल्डन फ्लीस इस महाद्वीप के उपनाम है ।

ऑस्ट्रेलिया की मैरिनो ऊन विश्व प्रसिद्ध है।

ऑस्ट्रेलिया इस महाद्वीप का सबसे बङा देश (जनसंख्या व क्षेत्रफल दोनो मे)

सबसे कम जनसंख्या घनत्व वाला महाद्वीप

ऑस्ट्रेलिया महाद्वीप की खोज – जेम्स कुक

ऑस्ट्रेलिया व न्यूगिनी द्वीप के बीच टॉरस जलसंधि है।

ग्रेट डिवाईडिंग रेंज – नवीन वलित पर्वतमाला

कोसिस्को/ कोस्युस्कु सबसे ऊँची चोटी


नदियाँ

मर्रे ऑस्ट्रेलिया की सबसे नदी है,

डार्लिंग – सिडनी इसी के किनारे है, यह मर्रे की सहायक नदी है !


मरूस्थल

ग्रेट आस्ट्रेलियन मरूस्थल – विश्व का दूसरा सबसे बङा मरूस्थल- यह पाँच भागों मे विभाजित है


अन्य तथ्य

आयर झील – ऑस्ट्रेलिया का मृत ह्यदय

डाउन्स – शीतोष्ण घास का मैदान

कुल गर्डी व काल गूर्गी (ऑस्ट्रेलिया) – सोने की खाने

वाईपा(ऑस्ट्रेलिया) – बॉक्साइट का सबसे बङा भंडार

न्यूजीलैंड – पूर्व का इंग्लैंड दुग्ध उत्पादन के लिए प्रसिद्ध


यूरोप महाद्वीप



यूराल पर्वत, यूराल नदी, कैस्पियन सागर, एवं कॉकेशस पर्वत एशिया से अलग करता है।

रूस व तुर्की दो ऐसे देश है जो यूरोप व एशिया दोनो महाद्वीप मे है।

प्रायद्वीपों का महाद्वीप कहलाता है।

क्षेत्रफल के अनुसार छठा व जनसंख्या के अनुसार तीसरा सबसे बङा महाद्वीप है।

क्षेत्रफल व जनसंख्या के अनुसार सबसे बङा देश रूस है।

क्षेत्रफल में दूसरा सबसे बङा देश यूक्रेन है, व जनसंख्या में दूसरा स्थान जर्मनी का है।


पर्वतमाला

आलप्स पर्तमाला – नवीन मोड़दार फ्रांस व जर्मनी में, इसकी सबसे ऊँची चोटी ‘ब्लाक’ है।

कॉकोशस – इसके सबसे ऊँची चोटी ”एल्बुश” है यूरोप की सबसे ऊँची

यूराल पर्वत – रूस में है


ज्वालामुखी पर्वत

स्ट्रॉम्बली – भूमध्य सागर (इटली) सक्रिय ज्वालामुखी इटली का प्रकाश स्तंभ कहलाता है।

एटना – भूमध्य सागर(इटली)


नदियाँ

डेन्यूब – यूरोप के 8 देशों मे गुजरती है। कैस्पियन सागर में गिरती है।

वोल्गा – यूरोप की सबस लम्बी नदी है। यूरोप की गंगा कहते है। यह कैस्पियन सागर झील में गिरती है

पो नदी – इटली की गंगा । नोट – इटली की यूरोप का भारत कहते है।

राईन नदी – विश्व की सर्वाधिक व्यस्त आंतरिक जलमार्ग है। यह कोयला नदी, यूरोप का मेरूदण्ड (आर्थिक आधार) कहलाती है ।


नदियाँ व तट पर नगर

स्प्री नदी – बर्लिन (जर्मनी की राजधानी)

सीन नदी – पेरिस(फ्रांस की राजधानी)

टेम्स नदी – लंदन (ब्रिटेन की राजधानी)

मस्कवा – मास्को(रूस)

टाइबर – रोम (इटली)

फिनलैण्ड को झीलों का देश कहते है।


पठार

यूक्रेन – यूरोप का का खनिज का अजायबघर कहते है।

आइबेरियन पठार


घास का मैदान

स्टेपी – शीतोष्ण, गेहूँ की खेती के लिए प्रसिद्ध है। डेन्यूब नदी की घाटी में फैला


अन्य तथ्य

यूक्रेन गेहूँ का सबसे बङा उत्पादक देश है, जो विश्व का अन्न भण्डार’ या रोटी का कटोरा कहलाता है। यह सबसे बङा चुकुन्दर उत्पादक देश है।

ल्यास (फ्रांस) – इंटरपोल का मुख्यालय (अंतरराष्ट्रीय पूलिस)

कील नहर – बाल्टिक सागर को उत्तरी सागर से जोङते है ।

यूनाइटेड किंगडम (UK) – यह राज्यो से मिलकर बना है – इंग्लैंड, वेल्स, स्कॉटलैण्ड, उत्तरी आयरलैंड ।

डेनमार्क – पन्नीर व मक्खन उत्पादन क्षेत्र है।


अंटार्कटिका


विज्ञान को समर्पित व श्वेत महाद्वीप भी कहा जाता है ।

माउण्ट एरेबुश यहाँ का एकमात्र सक्रिय ज्वालामुखी है जो, क्वीन मॉड पर्वत श्रेणी में स्थित है।

विन्सन मैसिफ इस महाद्वीप के सबसे ऊँची चोटी है ।

भारत द्वारा स्थापित अनुसंधान – गंगोत्री, मैत्री, भारती ।


Other facts


एशिया

विश्व में सर्वाधिक जनसंख्या घनत्व वाला देश सिंगापुर (6600 व्यक्ति प्रति वर्ग किमी)

पर्वत माला

हिमालय – नवीन वलित पर्वत माला,विश्व की सबसे ऊँची, इसका निर्माण भारतीय व यूरेशियन प्लेटों के टकराने से हूआ है।

इसको दो मोङ है – पूर्वी व पश्चिमी

पूर्वी में अराकनायोना पर्वतमाला के रूप में म्यामांर में स्थित है

पश्चिमी मोड़ में हिंदुकश पर्वतमाला स्थित है जो पाकिस्तान व अफगानिस्तान में स्थित है

माऊंट एवरेस्ट सबसे ऊँची चोटी (8848 मीटर), इसे सागरमाथा, गौरीशंकय, चोमोलुंगमा(पर्वतों की रानी) भी कहा जाता है।

भारत की सबसे ऊँची चोटी K2( गोडविन ऑस्टिन) पोक में स्थित है।

भारत में स्थित सबसे ऊँची चोटी कंचनजघा(सिक्किम)

पॉन्टिक पर्वतमाला – तुर्की

एल्बूर्ज पर्वतमाला – ईरान

ज्वालामुखी

बैरन – भारत का एकमात्र सक्रिय ज्वालामुखी जो अण्डमान में स्थित है

नारकोडम – प्रसुप्त ज्वालामुखी (अण्डमान)

फ्यूजीयामा – जापान का सक्रिय ज्वालामुखी

काकातोआ – इण्डोनेशिया(प्रसुप्त)


झीलें

कैस्पियन सागर – विश्व की सबसे बङी खारे पानी की झील।

बैकाल – विश्व की सबसे गहरी झील (रूस)

वॉन – विश्व की सबसे खारे पानी की झील (तूर्की)

टॉबा – विश्व की सबसे बङी कॉल्डेरा(ज्वालामुखी) निर्मित (इण्डोनेशिया)


पठार

पामीर का पठार – विश्व की छत कहालाता है

तिब्बत का पठार – विश्व का सबसे ऊँचा पठार।


मरूस्थल

अरब- एशिया का सबसे बङा मरूस्थल(सऊदी अरब)

किजीलकुम – उज्बेकिस्तान व कजाकिस्तान में

गोबी – मंगोलिया में

थार – भारत-पाक


नदियाँ

यांगटि सिक्यांग नदी – चीन (एशिया की सबसे लम्बी) पूर्वी चीन सागर एं गिरती है।

ह्यांग हो (चीन) – चीन का शोक(पीली नदी)

मैँकाग नदी – चावल की खेती के लिए प्रसिद्ध


नदियों के किनारे स्थित नगर


बैंकाग – चाओफ्राओ(मेनाम) नदी

बगदाद- दजला

बसरा – दजला व फरात के संगम(ये नदिया फारस की खाङी में गिरती है)


अन्य तथ्य

विश्व का सबसे ज़्यादा कोयला, लोहा,चावल का उत्पादक – चीन

रबर- थाइलैंड,मलेशिया, इण्डोनेशिया

तुर्की- यूरोप का मरीज़ (अफीम की खेती) एशिया का प्रवेश द्वार।

जापान चार द्वीपों से मिलकर बदा है। ?होंशू द्वीप सबसे बङा

ओसाका(जापान) – पूर्व का मैनचेस्टर

जापान- पूर्व का ब्रिटेन(उगते सूर्य की भूमि)


एशिया के द्वीप समूह


इण्डोनेशिया द्वीप समूह

1. बोर्नियों – इण्डोनेशिया का सबसे बङा द्वीप

2. सुमात्रा दूसरा सबसे बङा

3.जावा- जनसंख्या में इण्डोनेशिया का सबसे बङा(इण्डोनेशिया का ह्यदय)


श्रीलंका – पूर्व का मोती

बहरीन – मोतिंयो का देश

लाओस- हाथियों का देश

थाइलैंड – सफ़ेद हाथियों का देश


study24x7
Write a comment...